Faridabad Darshan
देश विदेश

अदाणी एयरपोर्ट्स ने मुंबई एयरपोर्ट्स की नियंत्रक हिस्‍सेदारी प्राप्‍त की 

 

 

नई दिल्ली ।  मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्टपूरी तरह से विश्वस्तरीय एयरपोर्ट है और मैं ऐसे उत्कृष्ट स्‍तर का एयरपोर्ट बनाने के लिए जीवीके समूह की सराहना करता हूँ।

 6 एयरपोर्ट के हमारे मौजूदा पोर्टफोलियो में मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट और नवी मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शामिल होना हमें एक परिवर्तनकारी मंच प्रदान करता है जो हमारे अन्य बी2बी व्यवसायों को आकार देने और  स्‍ट्रेटजिक निकटता लाने में मदद करेगा। यह अधिग्रहण हमें अपनी ग्राहक सेवा प्रदान करने और हमारे बी2सी और बी2बी व्यापार मॉडल को जोड़ने के तौर-तरीकों को फिर से डिज़ाइन करने में सहायक है।

मध्यम स्‍तर से लेकर दीर्घकालिक स्‍तर तक के परिप्रेक्ष्य में देखें तो मुंबई 21वीं शताब्दी के शीर्ष 5 वैश्विक महानगरीय केंद्रों में से एक बनने की राह पर है। मुंबई से उममीद है कि वह देश का प्रमुख एयरपोर्ट होने के साथ-साथ एक प्रमुख घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय हबबनेगा, क्योंकि हमारे देश में यात्री यातायात 5 गुना बढ़ गया है और भारत टियर 1,2 और 3  के शहरों में, जिनमें से अधिकांश मुंबई से जुड़ेंगे, 1 अरब से अधिक घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को संभालने के लिए 200 अतिरिक्त एयरपोर्ट का निर्माण करने जा रहा है। इस अवधि मेंउम्मीद है कि भारत के शीर्ष 30 शहरों में से प्रत्येक शहर को दो एयरपोर्ट की आवश्यकता होगी और अदाणी एयरपोर्ट आवश्यक बुनियादी ढाँचे का निर्माण करने में मदद के लिए स्‍वयं पूरी तरह से तैयार है।

जैसाकि ली कॉर्बुजिए ने कहा था किए सिटी मेड फॉर स्‍पीड इज मेड फॉर सक्सेस,और ये एयरपोर्ट ही इस गति को संभव बनाते हैं और हम एयरपोर्ट एक ऐसे न्‍यूक्‍लियस की तरह देखते हैं, जिसके चारों ओर हम रियल इस्‍टेट और मनोरंजन स्‍थलों,ई-कॉमर्स और लॉजिस्‍टिक क्षमताओंसमय के प्रति संवेदनशील रहने वाला औद्योगिक पारिस्थितिकी तंत्रविमानन से जुड़े व्यवसाय और नए-नए इनोवेटिव बिजनेस कॉन्सेप्‍ट को साकार कर सकते हैं। इन कॉन्‍सेप्‍ट में से कई कॉन्‍सेप्‍ट बिजनेस और हमारे रोजमर्रा की जिन्‍दगी के हर पहलू में डिजिटलीकरण के आने से संभव होंगे। वास्तव मेंहम एक ऐसी दुनिया में रहते हैंजहां एयरपोर्ट काफी हद तक किसी शहर के चरित्र को परिभाषित करते हैं और व्यापार करने के स्थानपर्यटनशहरी आर्थिक विकास और वैश्विक आर्थिक एकीकरण का चयन करने के लिए महत्वपूर्ण वजह बन गए हैं। हमारा विचार है कि भविष्य के शहर जिस आर्थिक मूल्य का सृजन करेंगे, वह एयरपोर्ट के आसपास अधिकतम होगा।

 

जैसा कि हमारा राष्ट्र दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की दिशा में अग्रसर हैएयरपोर्ट के बुनियादी ढांचे के तेजी से हो रहे निर्माण के जरिये इस विकास को साकार करने की अदाणी ग्रुप की क्षमता काफी महत्वपूर्ण हो सकती है। इसलिए हम स्थानीय आर्थिक विकासके लिए एयरपोर्ट को एक शक्तिशाली इंजन के रूप में देखते हैं। इसके साथ ही, एयरपोर्ट को हम हब और स्पोक मॉडल में टियर 2 और टियर 3 शहरों के साथ टियर 1 के शहरों के साथ लाने के प्रयास में एक महत्वपूर्ण लीवर के रूप में भी देखते हैं। यह हब और स्पोक मॉडल हमारे बढ़ते शहरी-ग्रामीण विभाजन को कम करते हुए अधिक बराबरी लाने का आधार है और एक राष्ट्र के रूप में हमें अधिक प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए विभिन्न स्थानों के बीच मौजूद कॉस्‍ट आर्बिट्रेज का लाभ प्रदान करता है। यह नई नौकरियों के निर्माण के लिए महत्वपूर्ण है। बुनियादी ढांचे के बारे में हमारी गहरी विशेषज्ञता को देखते हुए, हम इसे साकार करने में मदद करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

 

अदाणी ग्रुप के बारे में:

 अदाणी ग्रुप एक एकीकृत औद्योगिक समूह है, जो वैश्विक स्तर पर छह सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियों का परिचालन करता है। इन कंपनियों का कुल राजस्‍व 15 बिलियन अमेरिकी डॉलर और मार्केट कैपिटलाइजेशन ~ 30 बिलियन अमेरिकी डॉलर है। इसने पूरे भारत में विश्व स्तरीय परिवहन और उपयोगिता बुनियादी ढांचा तैयार किया है। अदाणी ग्रुप का मुख्यालय भारत के गुजरात राज्य में अहमदाबाद में स्‍थित है। इन वर्षों में, अदाणी ग्रुप ने अपने परिवहन लॉजिस्टिक्स और ऊर्जा यूटिलिटी पोर्टफोलियो व्यवसायों में मार्केट लीडर बनने के लिए भारत में बड़े पैमाने पर बुनियादी ढाँचे के विकास पर ध्यान केंद्रित किया है, जो वैश्विक मानकों के ओएंडएम प्रथाओं के अनुरूप है। चार आईजी रेटेड व्यवसायों के साथ, यह भारत में एकमात्र इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट ग्रेड जारीकर्ता है। अदाणी ग्रुप अपनी सफलता और नेतृत्व की स्थिति का श्रेय, स्थायी विकास के लिए मार्गदर्शक सिद्धांत, ‘नेशन बिल्डिंग विथ गुडनेस’ से प्रेरित ‘राष्‍ट्र निर्माण’ के अपने मुख्य विचार को देता है। अदाणी ग्रुप स्थिरता, विविधता और साझा मूल्यों के सिद्धांतों पर आधारित अपने सीएसआर प्रोग्राम के जरिये, तथा जलवायु संरक्षण पर जोर देने और सामुदायिक पहुंच बढ़ाने के साथ अपने व्यवसायों को जोड़ते हुए, अपने ईएसजी फुटप्रिंट बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

 

अधिक जानकारी के लिए, www.adani.com पर जाएं

Related posts

This woman creates eco-friendly cotton pads for unpriviledged women at home

cradmin

डिफेंस मैन्यफैक्चरिंग में आत्मनिर्भर भारत: पीएम मोदी

faridabaddarshan

अनलाॅक-4 में शुरू होगी मैट्रो

faridabaddarshan

Leave a Comment