Faridabad Darshan
चंडीगढ़

कोरोना के कारण रुकी बड़ी परियोजनाओं के आगामी वित्त वर्ष में लगेंगे पंख – डिप्टी सीएम

– गुरुग्राम में विकसित होगी ग्लोबल सिटीमुख्य मार्गों से होगी सीधी कनेक्टिविटी – दुष्यंत चौटाला

 

नई दिल्ली/चंडीगढ़,  मार्च। हरियाणा के आगामी बजट को लेकर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि राज्य सरकार ने अपने पिछले बजट के जरिए कई विकास योजनाओं की शुरूआत की थी लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के कारण इन विकास परियोजनाओं के क्रियान्वयन पर काफी असर पड़ा। उन्होंने कहा कि आगामी वित्त वर्ष में कोरोना महामारी की वजह से प्रदेश में रूकी विकास योजनाओं पर तेजी के साथ काम होगा। वे सोमवार को नई दिल्ली में साउथ एवेन्यू स्थित जननायक जनता पार्टी के कार्यालय पर पत्रकारों से रूबरू थे।

 

दुष्यंत चौटाला ने उदाहरण के तौर पर एक बड़े प्रोजेक्ट का जिक्र करते हुए बताया कि प्रदेश सरकार आगामी वित्त वर्ष में गुरुग्राम के ग्लोबल सिटी जैसे महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर काम करेगी। दुष्यंत चौटाला ने इस प्रोजेक्ट के बारे में बताया कि करीब एक हजार एकड़ में ढाई से तीन लाख की आबादी की आवासीयवाणिज्यिकइंस्टीट्यूशनल समेत अन्य सुविधाओं व तकनीक से लैस ग्लोबल सिटी विकसित की जाएगीजिसका सीधा मुख्य सड़कों के साथ संपर्क होगा। उन्होंने कहा कि इसी तरह बजट में प्रदेश के इंफ्रास्ट्रक्चर को सुदृढ बनाने के लिए काम किया जाएगा।

 

कोरोना वैक्सीन के सवाल पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में बनी कोरोना वैक्सीन को आज दुनियाभर में अपनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने देशभर में मुफ्त कोरोना वैक्सीन अभियान चला रखा है। साथ ही जनता के लिए कम से कम दाम पर निजी अस्पतालों में  कोरोना वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पिछले करीब 11 महीने में सभी देशवासियों ने एकजुटता के साथ कोरोना के खिलाफ मजबूत लड़ाई लड़ी है और आने वाले दिनों में भारत कोरोना पर पूरी तरह जीत हासिल करेगा। डिप्टी सीएम ने पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद विपक्षियों द्वारा की जा रही सियासत की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि क्या कांग्रेसियों से पूछकर टीकाकरण करवाया जाएगा कि किस राज्य की नर्स से टीका लगवाया जाए दुष्यंत ने कहा कि एम्स में आज देशभर का स्टाफ काम कर रहा है और इस तरह की बात करने वाले अपनी मानसिकता दर्शा रहे है।

 

कृषि व किसानों से संबंधित एक अन्य सवाल के जवाब में दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्राइवेट सेक्टर के आने से नई टेक्नोलॉजी बढ़ी है और रिसर्च से कृषि क्षेत्र व किसानों का उत्थान हुआ है। उन्होंने कहा कि आज  प्राइवेट कंपनिया ही कॉटन के बीज की दुनिया में सबसे बड़ी निर्माता हैं। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कपास की नई किस्में आने से आज किसानों की कपास की उपज बढ़ने के साथ-साथ उस किस्म की मांग अधिक होने से अन्य किस्मों के मुकाबले अधिक दाम मिलते है। डिप्टी सीएम ने कहा कि सरसों के तेल की विदेशी मार्केट में बड़ी मांग हैअगर सरसों तेल का निर्यात खुलता है तो सरसों की कीमतों में भी निर्धारित एमएसपी से ज्यादा उछाल आएगा। उन्होंने कहा कि इसी वजह से सरसों आज एमएसपी से 400-500 रूपये ज्यादा बिकती है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यह सब किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने वाले काम हैं।

 

वहीं किसान आंदोलन के संदर्भ में डिप्टी सीएम ने कहा कि किसानों संगठनों की जो बातें जायज है उन्हें केंद्र बदलने के लिए तैयार है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि किसानों संगठनों को दोबारा चर्चा के लिए आगे आना चाहिए और जब सरकार के साथ चर्चा होगी तो जरूर समाधान निकलेगा।

Related posts

अनलॉक-4 के बाद आर्थिक गतिविधियों को और बढ़ाने पर जोर – डिप्टी सीएम

faridabaddarshan

 हरियाणा को जीएसटी कंपन्सेशन फंड की मिली 761 करोड़ की पहली किस्त

faridabaddarshan

183 करोड़ रुपये से गांवों में होगी सड़कें चकाचक, सफर होगा सुहाना – दुष्यंत चौटाला  

faridabaddarshan

Leave a Comment